Desi xxx chudai ki sex story

Hindi xxx desi sex kahani,Desi xxx chudai,chudai,xxx kahani,xxx story,chudai ki story,chudai kahani,hindi sex kahani,hindi adult story,hindi sex story,bhai behan ki sex story,baap beti ki sex story,devar bhabhi ki sex story,maa bete ki sex stoy with xxx photo,indian xxx kahani,xxx chudai kahani hindi,hindi me chudai ki kahani,hindi me sex kahani,xxx story hindi

माँ बेटा की चुदाई कहानी

माँ बेटा की चुदाई कहानियाँ, Chudai kahani xxx hindi, माँ बेटा की चुदाई xxx देसी कहानी, Maa ki chudai मस्त कहानी, Maa bete ki sex leela, माँ बेटे सेक्स xxx hindi story, माँ ने अपने बेटे से चुदवाया, Desi xxx chudai ki stories, कामसूत्र सेक्स कहानियाँ, Maa ki kamvasna xxx kahani, Kamukta sex story, Chudai ki xxx story, Xxx story, Desi porn story, Desi sex kahani,

मेरा नाम सुषमा है और में रांची से हूँ.. में विधवा हूँ, मेरी उम्र 42 साल है और में पिछले 4 सालो से लौड़ा के लिए तरस रही हूँ.. मेरा बेटा राहुल जो बाहर पढ़ता है, जिसकी उम्र 22 साल है.. में काफ़ी सेक्सी, लंबी, गोरी, खूबसूरत हूँ.. एक बार मेरा बेटा राहुल मेरे घर गर्मीयों की छुट्टियों में रहने आया हुआ था, वो दिखने में सेक्सी है, उसकी बॉडी अच्छी है.. जब भी में उसे देखती थी तो पता नहीं क्यों मेरी चुत में सरसराहट होती थी? में बहुत ही कामुक 42 साल की औरत हूँ..
में हर समय चुदाई के लिए बेचैन रहती हूँ, लेकिन विधवा होने से कई साल तक मैंने चुदाई का मज़ा नहीं लिया था और में हर समय अपनी चुत चुदवाने के तरीके सोचती रहती हूँ.. में रोज नहाते समय हस्त मैथुन भी करती हूँ, लेकिन इससे भी मेरे बदन की भूख लगातार बढ़ ही रही थी.. में जब भी राहुल की छाती के बालों को देखती हूँ, तो में उत्तेजित हो जाती थी..अब रात के 1 बज रहे थे, अब में और राहुल पास-पास के रूम में सो रहे थे, उसके रूम की खिड़की खुली हुई थी और अंदर नाईट बल्ब जल रहा था.. अब मुझे नींद नहीं आ रही थी, में पूरी तरह से उत्तेजित थी और मेरी चुत का कोना-कोना जल रहा था.. तभी मैंने सोचा कि टॉयलेट के बाद मेरी चुत की गर्मी कुछ शांत हो जाएगी, तो में टॉयलेट करने को उठी.. तो तभी मैंने देखा कि राहुल के रूम का नाईट बल्ब जल रहा है.. फिर में टॉयलेट करके लौटकर आई तो मैंने सोचा कि क्यों ना राहुल को सोते हुए देखते हुए में उत्तेजित होकर हस्तमैथुन कर लूँ? लेकिन जैसे ही मैंने अंदर देखा तो मेरी पूरी चुत में सरसराहट दौड़ गई.. अब मेरा बेटा राहुल अपना मोटा लौड़ा अपने हाथ में लिए सहला रहा था और उसे तेज़ी से झटके दे रहा था.ये सेक्स कहानी,क्सक्सक्स चुदाई की स्टोरी डॉट कॉम पर पड़ रहे है।अब ये सब देखते ही मेरी चुत सुलगने लगी थी तो में उसे लगातार देखती रही.. फिर तभी मैंने देखा कि राहुल के हाथ में मेरी पेंटी थी, अब वो उसे पागलों की तरह सूँघे जा रहा था, उसने वो अलमारी में से निकाल ली होगी.. अब वो मेरी पेंटी को चाट रहा था, फिर मुझसे चुदाई की प्यास बर्दाश्त नहीं हो पाई तो मैंने धक्का देकर उसके रूम का दरवाजा खोल दिया और उसके रूम में घुस गई.. अब मुझे देखते ही राहुल ने अपने लौड़ा को अपने हाथ में दबा लिया था.. फिर में मुस्कुराते हुए बोली कि ये क्या कर रहे हो बेटा? तो वो कुछ नहीं बोला..फिर में उसके पास चली गई और उसके लौड़ा की तरफ देखती हुई बोली कि उसे क्यों ऐसे छुपा रहे हो? मैंने तो सब देख लिया ही है.. तो वो बोला कि आप मेरी माँ है, आप अपने रूम में जाइए ना, ये सब ठीक नहीं है..

फिर मैंने अपनी साड़ी को ऊपर करके उठा दिया, तो वो बोला कि ये क्या कर रही है माँ? यहाँ से जाइए ना, लेकिन वो मेरी और देख रहा था, इससे मुझे लगा कि वो थोड़ा झिझक रहा है.. फिर मैंने अपनी चूचियों को पूरी तरह से नंगा कर दिया और उससे कहा कि राहुल तुम्हें मेरी कसम, मेरी प्यास बुझा दो बेटा, में कब से आग में जल रही हूँ.. फिर तब उसने हल्के से मेरी चूचियों को सहलाया और रूम लॉक कर दिया..तब मैंने राहुल के लौड़ा को पकड़ लिया और सहलाने लगी.. फिर उसने मेरी साड़ी को उतार दिया और इसके बाद उसने एक-एक करके मेरा ब्लाउज, पेटीकोट भी खोल दिया.. अब में ब्लेक पेंटी पहने थी, अब मेरी पेंटी पूरी गीली हो रही थी.. फिर उसने मेरी पेंटी में अपना हाथ डाल दिया तो में सिसकने लगी और फिर उसने मेरी पेंटी नीचे सरकाकर मेरी चुत को उजागर कर दिया और बहुत ध्यान से मेरी चुत को देखने लगा.. फिर मैंने उसका हाथ पकड़कर अपनी चुत पर रख लिया और कहा कि मेरी चुत को चाटो राहुल.. तो वो बोला कि माँ अपनी टाँगे फैला लो, अब मेरी चुत जमकर अपना पानी छोड़ रही थी..ये सेक्स कहानी,क्सक्सक्स चुदाई की स्टोरी डॉट कॉम पर पड़ रहे है।अब 4 साल के बाद पहली बार मेरे लड़के ने मेरी चुत को सहलाया था.. फिर वो मेरी चुत को चूसने लगा तो में ज़ोर से बोली कि चूसो मेरी चुत को, चाट लो पूरा.. अब वो भी पूरा उत्तेजित हो गया था और तेज़ी से मेरी चुत को चूसने लगा था.. अब मेरा भी मन उसका लौड़ा चूसने का कर रहा था, तो जब मैंने उसका लौड़ा चूसने की कोशिश की तो वो आनाकानी करने लगा.. लेकिन में नहीं मानी और उसके लौड़ा को अपने मुँह में डालकर मुख मैथुन करने लगी.. अब में अपने बेटे के लौड़ा को अपने मुँह में लेकर चूसने लगी थी..ये सेक्स कहानी,क्सक्सक्स चुदाई की स्टोरी डॉट कॉम पर पड़ रहे है।अब उसकी खुशबू मुझे पागल कर रही थी, फिर धीरे-धीरे राहुल अपनी कमर हिलाने लगा, तो में समझ गई कि अब उसका मन भी चुदाई के लिए मचल रहा है.. तो मैंने उसी समय राहुल का लौड़ा अपने मुँह से निकाल दिया और अपनी चुत फैलाकर बोली कि राहुल अब घुसा दो अपने लौड़ा को अपनी माँ की चुत में, चोद लो जी भरकर अपनी माँ की चुत को, मेरी सालों की प्यास बुझा दो बेटा.. फिर राहुल ने मेरी चुत की तरफ देखा और अपने लौड़ा को आगे बढ़ाकर अपना लौड़ा मेरी चुत के मुहाने पर रख दिया और उसे अंदर धकेलने लगा, अब में तो जैसे स्वर्ग में थी..फिर मैंने उससे धक्का लगाने को कहा तो उसने धक्का मारा, तो उसका लौड़ा मेरी चुत के अंदर चला गया, तो उसी पल मैंने ज़ोर से सिसकारी ली.. अब वो बहुत खुश हो गया था और ये सोचकर कि मुझे मज़ा आ गया, उसका लौड़ा वैसे ही मोटा था इसलिए मुझे दर्द ज्यादा ही महसूस हो रहा था, लेकिन थोड़ी ही देर में मेरा दर्द मज़े में बदल गया.कैसी लगी हम डॉनो माँ बेटा की कामसूत्र स्टोरी , अच्छा लगी तो शेयर करना , अगर कोई मेरी चूत की चुदाई करना चाहते हैं तो ऐड करो Chudai ki bhukhi sexy aurat

The Author

चुदाई की सेक्स कहानियाँ

चुदाई की कहानियाँ, हिंदी सेक्स कहानी, चुदाई कहानी & हिंदी सेक्स स्टोरी, यौन कहानी, अन्तर्वासना की चुदाई कहानी, मस्तराम की सेक्स कहानी, कामसूत्र की हिंदी कहानी, चुदाई की देसी कहानी, देसी कामुकता कहानी, मस्तराम की हॉट कहानी, भाई बहन की सेक्स कहानियाँ, माँ बेटा की चुदाई कहानियाँ, देवर भाभी की यौन कहानी, जानवर के साथ औरत की सेक्स हिंदी कहानी, कुत्ते के साथ औरत की चुदाई हिंदी कहानी, लेस्बियन चुदाई कहानी, Hindi lesbian sex stories, लेस्बीयन लड़कियों की कहानियाँ, Samalingik lesbian Kamuk Kahani, समलैंगिक लेस्बियन सेक्स स्टोरीज,
Desi xxx chudai ki sex story © 2018 Frontier Theme